वेबसाइट ट्रैफिक बढ़ाने के 10 तरीके-2021

वेबसाइट ट्रैफिक बढ़ाने के 25 तरीके

10 Ways to Increase Traffic to Your Website :

वेबसाइट या ब्लॉग बनाना उतना मुश्किल काम नहीं है जितना की ब्लॉग या वेबसाइट पे ट्रैफिक लाना
मुश्किल काम है |
अगर आपके पास भी कोई ब्लॉग या वेबसाइट है जिसके ऊपर ट्रैफिक नहीं आ रहा है तो ये पोस्ट आपके लिए
काफी ज्यादा इम्पोर्टेन्ट हो सकता है |
इस पोस्ट में हम आपकी वेबसाइट ट्रैफिक बढ़ाने के 25 तरीके के बारे में बात करेंगे जिसका इस्तेमाल
कर के आप अपने वेबसाइट पे ट्रैफिक बढ़ा सकते हैं |

वेबसाइट ट्रैफिक क्या होता है? [ what is website traffic ]

वेबसाइट पे जो भी लोग विजिट करते हैं उसे वेबसाइट ट्रैफिक कहते हैं | अगर आपके पास एक
ब्लॉग वेबसाइट है और आप उस पर कंटेंट लिखते हैं तो जो भी लोग गूगल सर्च के माध्यम से या
फेसबुक या सोशल शेयर के माध्यम से आपके वेबसाइट या ब्लॉग पे कंटेंट पढ़ने आते हैं
उसे वेबसाइट ट्रैफिक बोला जाता है |

उसी तरह अगर किसी के पास इ कॉमर्स वेबसाइट है और उसके ऊपर कोई प्रॉडक्ट बेचा जा रहा है
जो भी ग्राहक उस वेबसाइट पे प्रोडक्ट खरीदने उस वेबसाइट पे पहुँचते हैं उसे वेबसाइट ट्रैफिक बोला
जाता है |

वेबसाइट ट्रैफिक क्यों इतना महत्वपूर्ण है ? [Why website traffic is important]

किसी भी वेबसाइट पे अगर ट्रैफिक नहीं आएगा तो फिर उस वेबसाइट से कोई फायदा ही नहीं होगा |
अगर आपके पास कोई ब्लॉग वेबसाइट है और अगर उस ब्लॉग वेबसाइट पे कोई लोग ब्लॉग पढ़ने नहीं
आता है तो फिर ब्लॉग वेबसाइट बनने का क्या फायदा होगा |

उसी तरह अगर किसी के पास इ कॉमर्स वेबसाइट है और उस वेबसाइट पे तरफ़ीक ही नहीं आता है तो
वेबसाइट पे जो प्रोडक्ट होंगे वो बिकेगा ही नहीं और प्रोडक्ट नहीं बिकेगा तो फायदा भी नहीं होगा |

इसी लिए किसी भी प्रकार के वेबसाइट के लिए ट्रैफिक काफी महत्वपूर्ण है | वेबसाइट पे ट्रैफिक होगा
तभी उस वेबसाइट से पैसे कमाए जा सकते हैं और जितने ज्यादा ट्रैफिक होगा उतने ज्यादा पैसे होंगे |

वेबसाइट ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं [website kaise bdhaye]

इस पोस्ट के माध्यम से हम वेबसाइट ट्रैफिक बढ़ाने के 25 तरीके के बारे में बात करेंगे
जिससे आसानी से वेबसाइट ट्रैफिक बढ़ा सकते हैं |

  1. Write Unique Content
  2. keyword research
  3. Target Long-Tail Keywords
  4. On-Page SEO
  5. off page seo
  6. Advertise
  7. Social share
  8. Guest post
  9. Invite Guest post
  10. backlinks

1. Write Unique Content

वेबसाइट पे जो भी कंटेंट लिखें तो ध्यान रखें की आपका कंटेंट एकदम यूनिक होना चाहिए |
कंटेंट लिखने से पहले अच्छे से तयारी कर लें | जो भी कंटेंट लिखें वो यूजर फ्रेंडली होना चाहिए
और जिस टॉपिक के ऊपर लिख रहें है वो टॉपिक के बारे में अच्छे से इनफार्मेशन के साथ के
लिखें |

किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग के लिए कंटेंट सबसे ऊपर होता है | जिस वेबसाइट पे कंटेंट अच्छे और
इन्फोर्मटिव होता है उस वेबसाइट पे यूजर दुबारा भी ब्लॉग पढ़ने के लिए विजिट करते हैं जिससे
ट्रैफिक बढ़ता है |

ओरिजनल और इन्फोर्मटिव कंटेंट गूगल पे रैंक भी आसानी से करता है जिससे नए यूजर वेबसाइट पे
ज्यादा विजिट करते हैं और वेबसाइट पे ट्रैफिक आसानी से बढ़ा सकते हैं |

2. keyword research

वेबसाइट पे कंटेंट लिखने और पब्लिश करने से पहले कीवर्ड रिसर्च करना जरुरी होता है |
गूगल पे किइस ही टॉपिक के बारे में यूजर जिस वर्ड के मदद से कुछ भी सर्च करता है
वो कीवर्ड कहलाता है |

किसी भी कीवर्ड के ऊपर पोस्ट लिखने से पहले ये देखना होता है की उस कीवर्ड का सर्च वॉल्यूम
कितना है उस कीवर्ड के ऊपर कॉम्पीटीशन कितना है यानि सर्च डिफकल्टी कितना है |
ये सभी चेक करने के लिए कीवर्ड रिसर्च टूल का इस्तेमाल किया जाता है और इस प्रोसेस को
कीवर्ड रिसर्च कहते हैं |

Keyword serch volume :

किसी कीवर्ड के ऊपर गूगल सर्च के मदद से कितना ट्रैफिक जाता है वो कीवर्ड का सर्च वॉल्यूम कहलाता है |
यानि किसी कीवर्ड को गूगल पे कितना लोग सर्च करता है वो उस कीवर्ड का सर्च वॉल्यूम होता है |

Keyword serch difficulty :

किसी कीवर्ड के ऊपरकितने वेबसाइट तरगेट कर रहे हैं | मत्तलब कितना और दूसरा वेबसाइट है जो
उसी कीवर्ड के टारगेट कर रह वो उस कीवर्ड का कीवर्ड डिफिकल्टी कहलाता है |

जितना अच्छे से कीवर्ड रिसर्च कर के वेबसाइट के ऊपर कंटेंट लिखेनेग उतना ज्यादा उस वेबसाइट
पे ट्रैफिक आने की सम्भावना होती है |

हमेंश ज्यादा सर्च वॉल्यूम वाले कीवर्ड को टारगेट कर के पोस्ट लिखना चाहिए ताकि ज्यादा लोग आपके
उस पोस्ट कंटेंट को पढ़ने आपके वेबसाइट पे विजिट कर सके |

3. Target Long-Tail Keywords

हमेशा Long-Tail कीवर्ड्स को टारगेट कर के कंटेंट लिखने की कोशिश करें | Long-Tail कीवर्ड्स पे
कॉम्पिटिशन काम होता है | ये अलग बात है की उसका सर्च वॉल्यूम भी कम होता है |
Long-Tail कीवर्ड्स का मतलब होता है वैसे कीवर्ड जो 4 वर्ड से ज्यादा बड़ा हो |

Long-Tail कीवर्ड्स को कम सर्च वॉल्यूम होने के वजह से ज्यादा लोग टारगेट नहीं करते हैं और
इसी वजह से इसके ऊपर कॉम्पिटिशन भी कम होता है इसी लिए हमेशा ऐसे कीवर्ड्स सर्च कर के
कंटेंट लिखने की कोशिश करें |

जब आप शुरुआत में ब्लॉग लिख रहे हो तो Long-Tail कीवर्ड्स के ऊपर ही ज्यादा कर के टारगेट कर
के ब्लॉग लिखें |

4. On-Page SEO

अपने वेबसाइट के ऊपर On-Page SEO कर के वेबसाइट को सर्च इंजन के लिए ऑप्टीमाइज़्ड कर
कर सकते हैं | On-Page SEO के अंदर काफी चीजें आता है जैसे- आप जिस कीवर्ड को टारगेट कर
के पोस्ट लिख रहे हैं वो कीवर्ड कितनी बार उस पोस्ट के अंदर इस्तेमला हुआ है |

वैसे गूगल के द्वारा कोई तय मापदंड नहीं है की किसी कीवर्ड को कितनी बार किसी पोस्ट में इस्तेमाल करना है |
अगर ज्यादा बार कीवर्ड रिपीट होता है तो “keyword stuffing ” कहलाता है और कम होता है तो वो SEO को
प्रभावित करता है |

On-Page SEO के अंदर अपगे के तितल को सर्च इंजन के लिए ऑप्टीमाइज़्ड बांया जाता है | जिस कीवर्ड को
आप टारगेट कर रहे हैं वो कीवर्ड पोस्ट के टाइटल में होना जरूरी है |

उसके साथ ही पोस्ट के अंदर जो भी सेकेंडरी हैडिंग है उसमे भी कीवर्ड का इस्तेमाल करना होता है |

पोस्ट के अंदर जो भी इमेज का इस्तेमाल कर रहे हैं वो इमेज यूनिक होना चाहिए और प्रत्येक इमेज
का अपना एक अलग Alt -image टेक्स्ट होना चाहिए |

अगर आपका वेबसाइट वर्डप्रेस पे है तो आप कसीस भी SEO प्लगिनके मदद से पाने पोस्ट का
On-Page SEO कर सकते हैं |

5. Off page seo

वेबसाइट के बहार जिस एक्टिविटी के वजह से आपके वेबसाइट का रैंकिंग इम्प्रूव होता है
वो Off page SEO कहलाता है |

दूसरे ब्लॉग या वेबसाइट के ऊपर कमेंट करना और उसके ऊपर ओपन वेबसाइट का लिंक लगाना
Off page SEO कहलात है |

अपने ब्लॉग के यूआरएल को सोशल मीडिया (फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर) इत्यादि जगहों पे शेयर कर
भी अपने ब्लॉग या वेबसाइट के SEO को इम्प्रूव कर सकते हैं |

6. Advertising (विज्ञापन)

विज्ञापन के मदद से वेबसाइट पे ट्रैफिक लाना भी एक स्वभाविक बात है | शुरू में वेबसाइट को प्रमोट
करने के लिए लगभग सभी वेबसाइट ओनर विज्ञापन का सहारा लेते हैं |

विज्ञापन करने के लिए फेसबुक विज्ञापन या फिर गूगल विज्ञापन नेटवर्क का इस्तेमाल किया जाता
है और वेबसाइट के कंटेंट को प्रमोट किया जाता है |

फेसबुक या गूगल पर विज्ञापन करने करने के लिए वेबसाइट के मालिक को क्लिक के हिसाब से
पैसे pay करना होता है | अगर आप भी अपने वेबसाइट पे विज्ञापन के मदद से ट्रैफिक बढ़ाना चाहते
हैं तो फेसबुक या गूगल विज्ञापन नेटवर्क का इस्तेमाल कर सकते हैं |

7. Social share

अपने वेबसाइट के पेज या पोस्ट को अलग-अलग सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर कर के
वेबसाइट ट्रैफिक बढ़ा सकते हैं |

गर हम फेसबुक की बात करें तो फेसबुक पर आप अपने वेबसाइट या बिज़नेस के नाम से एक
फेसबुक पेज बना सकते हैं और उस पेज के ऊपर अपने वेबसाइट के यूआरएल को पोस्ट
के रूप में लगातार शेयर कर सकते हैं |

जो भी ऑडियंस आपके वेबसाइट से रिलेटेड होंगे उन्हें अपने फेसबुक पेज पे आमंत्रित कर सकते
हैं | जब आप कोई भी न्य पोस्ट या वेब पेज अपने वेबसाइट में जोड़ेंगे तो उसका लिंक पोस्ट के
रूप में अपने फेसबुक पेज पे शेयर कर देंगे जिससे आपका वेबसाइट ट्रैफिक आसानी से बढ़ेगा |

इसी तरह अन्य सोशल मीडिया जैसे ट्विटर, इंस्टाग्राम, tumblr इत्यादि जगहों पे अपना वेबसाइट
के पेज को शेयर कर के ट्रैफिक बढ़ा सकते हैं |

8. Guest post के मदद से वेबसाइट ट्रैफिक बढ़ाएं

आप किसी दूसरे वेबसाइट या ब्लॉग के ऊपर Guest पोस्ट लिख कर भी ट्रैफिक बढ़ सकते हैं |
इसके लिए सबसे पहले आपको अपने वेबसाइट से रिलेटेड दूसरा वेबसाइट ढूँढना होता है और उसके
ऊपर Guest पोस्ट लिखना होता है | Guest पोस्ट लिखने के बिच में आप अपने वेबसाइट के लिंक को
लगाकर अपने वेबसाइट को टारगेट कर सकते है | उस वेबसाइट का जो भी ऑडियंस या फॉलोवर होगा वो
उस पोस्ट को पढ़ने के बाद उस लिंक के मदद से आपके वेबसाइट पे आ सकता है और इस तरह सेा आप
गेस्ट पोस्ट के मदद से अपने वेबसाइट के ट्रैफिक को बढ़ा सकते हैं |

गेस्ट पोस्ट से का और फायदा होता है आपके वेबसाइट के SEO में मदद मिलता है |
आपके वेबसाइट के Off Page Seo में ज्यादा मदद मिलता है |

9. Invite Guest post

दूसरे वेबसाइट पे गेस्ट पोस्ट करने के अलावा आप अपने वेबसाइट पे भी गेस्ट पोस्ट invite कर सकते
हैं | कोई भी दूसरे वेबसाइट जो आपके टॉपिक से रिलेटेड हो उन्हें आप अपने वेबसाइट पे गेस्ट पोस्ट
करने के लिए बोल सकते हैं इससे दोनों वेबसाइट को फायदा होगा |

आपके वेबसाइट का Seo इम्प्रूव होगा और आपके वेबसाइट पे ट्रैफिक बढ़ने में मदद मिलेगी |

10. Backlinks के मदद से वेबसाइट ट्रैफिक बढ़ाएं

वेबसाइट के Seo को इम्प्रूव करने के लिए बैकलिंक्स बांये जाते हैं | जो वेबसाइट का जितना
ज्यादा Seo स्कोर होता है उसके ऊपर उतना ज्यादा ट्रैफिक आने की संभावनाएं रहती है |

किसी भी वेबसाइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक उस वेबसाइट के ऊपर किये गए Seo के मदद से ही
होता है | बैकलिंक्स बनाने के लिए आप दूसरे वेबसाइट पे कमेंट कर सकते हैं और पाने वेबसाइट
के यूआरएल को लिंक कर सकते हैं | इसके अलावा दूसरे वेबसाइट पे Guest पोस्ट कर सकते हैं और
दूसरे लोगों का Guest पोस्ट अपने वेबसाइट पे Invite कर सकते हैं |

11. internal links

आप अपने वेबसाइट पे जब भी पोस्ट लिखते हैं तो उस पोस्ट के अंडा अपने दूसरे किसी पोस्ट
का लिंक लगा सकते हैं और इसको internal लिंक्स बोलते हैं |
internal लिंक्स आपके वेबसाइट के on Page Seo को इम्प्रूव करता है और आपके वेबसाइट पे
ट्रैफिक बढ़ाने में मदद करता है |

जब भी आप कोई नया पोस्ट अपने वेबिस्ते पे लिखते हैं तो ध्यान रखें की आपका पोस्ट आपके वेबसाइट
से रिलेटेड हो और तभी आप अपने वेबसाइट के उस पोस्ट में इस्तेमाल हुए वर्ड को दूसरे post से लिंक
कर सकते हैं |

इससे एक फायदा यूजर को भी होता है | कसी पोस्ट को पढ़ते वक़्त कोई ऐसा टर्म आता है जिसको जानना
जरूरी होता है और वो पके वेबसाइट पे किसी दूसरे पोस्ट में लिखा हुआ है तो आप अगर उस पोस्ट को Internal
लिंक कर देते हैं तो यूजर को दूसरे पोस्ट तक पहुँचने में आसानी होती है और आपके वेबसाइट का Seo भी इम्प्रूव होता है |

इस तरह से इन सभी तरीके को इस्तेमाल कर के आप अपने वेबसाइट के ऊपर ट्रैफिक बढ़ सकते हैं |

Leave a comment

Close Bitnami banner
Bitnami